Saturday, June 3, 2017

Hindi shayari

***********

है किस्मे जोर की

हमसे टकराये

वो तो प्यार में हैं

हमें होश कहां 

दिन रात बेचैनियों का जहां 

***********

Romantic shayari

Love shayari , Hindi shayari , shayari Hindi mai , romantic shayari ,  new shayari


ख़यालों में 
ख्वाबों में
मेरे हर रोज़ आती है
तेरी सोहबत
मुझे हर पल 
कुछ नया सिखलाती है

Love shayari

New shayari , Hindi shayari , romantic shayari , love shayari , Hindi love shayari , shayari Hindi mai 


हिसाब मांगती थी चूड़ियाँ तुम्हारी
जवाब चाहती थी बिंदिया तुम्हारी
हम सोचते थे बस तुम हो हमारे
क्या जानते थे 
हम हो चुके थे तुम्हारे 
तेरी याद में भूल रहा हूँ
भूला रहा हूँ खुद ही को
आस तुम्हीं से बान्ध रहा हूँ
बस तुम्हारी खातिर जाग रहा हूँ
अनजाने सपनों के पीछे भाग रहा था
कैसे लड़खड़ाते कदमों को संभाल रहा था
साथ ने तुम्हारे हमें इत्मिनान दे दिया
कर्मों को मेरे अंजाम दे दिया
shayari ki dukan

Saturday, May 13, 2017

Hogi pyar ki jeet

Love shayari


इंतज़ाम भी हुए 
वो हमारे भी हुए 
साथ में चाँद और सितारे भी हुए 
एहसान किसी का नहीं ,
तेरे मेरे इस प्यार पर 
बस कुछ दिन और तू इंतज़ार कर 
सिर्फ इतना भर ऐतबार कर
तू दूर है फिर भी मेरे पास है
एक मीठा सा दर्द है ,
और ये दिल तेरे लिए बेकरार है
घडी  की सुइयों में उलझा रहता हूँ 
जब दो कांटे मिलते हैं ,
तो उनमे तेरा मेरा अक्श जान लेता हूँ

Tera saath

Love shayari


कुछ  कह रही  हवा की आहते 
नूर में नूर है तेरी चाहतें 
बमुश्किल मिलती है वो ख्वाहिशें 
खुदा से की थी जो फरमाइशे  
कोई क्या जाने जन्नत इस जहां में मौजूद है कभी  से 
जीना सीखा  रही तुम मुझे सही से

Hum aur Tum

Love shayari


लिखते लिखते शाम हो जाएगी  
कहते कहते रात गुजर जाएगी 
बातों बातों में वो पल आ गया 
तेरा मेरा मिलना सबको रास आ गया 
हम तुझसे दूर रह कर भी 
हैं तेरे नजदीक 
मिलने  मिलाने की करते रहते तरकीब 
तुमसे मिलने से पहले हम भी थे शरीफ 
 अब बदमाशी करने की मिलती तुमसे तारीफ़

Jab tak hai jaan

Love shayari


लाखों  की तक़दीरें बदल जाती हैं पल भर में 
करोडो की आहें निकल जाती हैं तेरी चाह  में 
सुना  चुके हैं अपनी दास्ताँ 
साथ रहेंगे तेरे जब तक है जान 
जान कर भी ना बन अनजान 
तेरे बिना मेरा नहीं कोई   नामो-निशान 
इश्क में तेरे सिमटा  मेरा जहान

Hindi shayari

*********** है किस्मे जोर की हमसे टकराये वो तो प्यार में हैं हमें होश कहां  दिन रात बेचैनियों का जहां  *********** ...